+91 9818667285
Menu
0 Comments

सूचना का अधिकार

RTI – Information (सूचना का अधिकार )

जैसा कि ज्ञात है कि सदियों से दबा कुचला, पिछडा व दलित बहुजन शोषित समाज आज अगर किसी भी क्षेत्र में सफल है या तरक्की कर रहा है तो इसमें बहुत बडा योगदान बाबा साहेब अंबेडकर जी का रहा है। 

     बाबा साहेब ने शदियो से चली आ रही कुरीतियों व प्रथाओं व भ्रांतियों को समाज से उखाड़ फेंका क्योंकि बाबासाहेब अच्छे पढे लिखे होने के साथ-साथ वह तर्क शक्ति का प्रयोग करते थे। और एैसा तभी संभव है जब किसी भी चीज के बारे में पूर्ण जानकारी हो। 

     इसलिए मैं भी आज आपको जो बताने जा रहा हूँ उससे आप भी किसी भी सरकारी विभाग से जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। जी हाँ RTI के माध्यम से यह संभव है। 👉RTI अधिनियम क्या है – कैसे आप इस अधिकार का इस्तेमाल कर सकते हैं?

मुख्य रूप से भ्रष्टाचार के खिलाफ 2005 में एक अधिनियम लागू किया गया जिसे सुचना का अधिकार यानी RTI कहा गया, इसके अंतर्गत कोई भी नागरिक किसी भी सरकारी विभाग से कोई भी जानकारी ले सकता है।  बस शर्त यह है की RTI के तहत पूछी जाने वाली जानकारी तथ्यों पर आधारित होनी चाहिए, यानी हम किसी सरकारी विभाग से उसके विचार नही पूछ सकते।

किसी भी सरकारी विभाग की राय जानने के लिए नही बल्कि इसका उपयोग हम तथ्यों की जानकारी लेने के लिए कर सकते हैं।

जैसे – डिस्पेंसरी में कितनी दवाइयां आती है, और कितना पैसा खर्च हुआ, शिक्षा के लिए कितने पैसे खर्च हुए और कहाँ कहां और कब कब किए गए।
किसी सरकारी दफ्तर में कितनी नियुक्तियां हुई?
इसके अलावा सड़क बनाने के लिए कितने पैसे
आये और कहा पर खर्च हुए?

सभी सरकारी विभाग जैसे –  प्रधानमंत्री, मुख्यमत्री, बिजली कंपनियां, बैंक,
स्कूल, कॉलेज, हॉस्पिटल, पुलिस, आदि।
RTI act के अंतर्गत आते है।

नोट 👉 हालांकि ये बात अलग है कि आजकल यह विभाग कैई तरहा की जानकारी नहीं दे रहा है जैसे कि नोटबंदी के आंकड़े, जातिगत जनगणना के आंकड़े, व प्रधानमंत्री की विदेशी यात्राओं के खर्चों का आंकड़ा आदि। 

“सरकार की सुरक्षा से सम्बंधित जानकारी या गोपनीयजानकारी इस अधिकार के अंतर्गत नही आती हैं।”

कैसे प्राप्त करे जानकारी –
👉  हर सरकारी विभाग में जन सुचना-अधिकारी होता है,  आप अपने आवेदन पत्र उसके पास जमा करवा सकते है।

👉  आवेदन पत्र का फॉर्मेट इन्टरनेट से डाउनलोड
कर सकते है या फिर एक सफ़ेद कागज पर अपना
आवेदन (एप्लीकेशन) लिख सकते है जिसमे
जनसुचना-अधिकारी आपकी मदद करेगा।

👉   RTI की एप्लीकेशन आप किसी भी भारतीय
भाषा जैसे हिंदी या इंग्लिश या किसी स्थानीय भाषा में भी दे सकते हैं।

👉   अपने आवेदन पत्र की फोटो कॉपी करवा कर
जनसुचना-अधिकारी से रिसीविंग जरुर ले लें।

👉   https://rtionline.gov.in पर भी सरकार के किसी भी सरकारी विभाग से जानकारी प्राप्त करने के लिए आंनलाइन आवेदन भी कर सकते हैं।

👉   साथ ही RTI से जुडी सभी जानकारी और
गाइडलाइन्सआप इस वेबसाइट में
https://rtionline.gov.in/guidelines.php

कब मिलेगी जानकारी?

♻  आवेदन पत्र डालने के 30 दिनों के अन्दर
आपको जवाब मिल जाएगा।

♻  यदि ऐसा नही होता है तो आप कार्ट में अपील
कर सकते हैं।

फीस- Fees 

⏩ किसी भी सरकारी विभाग से जानकारी प्राप्त करने के लिए आवेदन पत्र के साथ Rs.10/- की फीस है

⏩ये फीस गरीबी रेखा से नीचे के लोगो के लिए माफ़ है।

 मेरा यह सब लिखने का मकसद सिर्फ यह है कि आजकल बढते भ्रष्टाचार को रोकने के लिए व किसी भी सरकारी विभाग की जानकारी लेने के लिए व आजकल उभरते सितारे जो समाज को आगे बढ़ाने का जिम्मा उठाए हैं उनकी सुविधा के लिए व समाज को जागरूक करने के उद्देश्य से यह जानकारी आप सभी के साथ शेयर कर रहा हूँ। 

📝
सोमवीर सिंह

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *